माउजर कारतूस के साथ लापता सिपाही का शव रेलवे ट्रैक पर मिला.. मौत की गुत्थी सुलझाना पुलिस के लिए चुनोती..

रेलवे ट्रैक के पास से बाइक भी बरामद..
 
आरक्षक
सागर जिले के राहतगढ़ थाना अंतर्गत सीहोरा चौकी में पदस्थ एक आरक्षक का शव खुरई क्षेत्र में रेलवे लाइन पर क्षत विक्षत हालत में मिलने से सनसनी के हालात बने रहे। कल से लापता इस सिपाही की तलाश में आसपास के थाना क्षेत्र में पुलिस जुटी हुई थी लेकिन इसकी लाश मिलने के बाद अब मौत की गुत्थी सुलझाना पुलिस के लिए चुनौती बनता नजर आ रहा है..
 सागर जिले के सिहोरा चौकी में पदस्थ बण्डा निवासी युवा आरक्षक रवि पाण्डे का रविवार दोपहर से मोबाईल बन्द रहने से कोई लोकेशन नहीं मिलने वजह से आसपास के थाना क्षेत्रों की पुलिस उसकी तलाश में जुटी हुई थी। दरअसल रवि पाण्डे सुबह ज़ब्ती की दो माउजर एवं करीब दो दर्जन जिंदा कारतूस के साथ लेकर निकले थे। जिस वजह से जिस वजह से उनका लापता हो ना परिजनों के साथ पुलिस के लिए भी चिंता का विषय था।

सोमवार सुबह खुरई ग्रामीण थाना अंतर्गत दो टुकड़ों में क्षत-विक्षत शव मिलने तथा उसकी पहचान आरक्षक रवि पांडे के तौर पर किए जाने के बाद सनसनी के हालात बने रहे जानकारी लगने पर मौके पर स्थानीय पुलिस टीम पहुंची। बाद में पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों के अलावा एफएसएल टीम भी मौके पर पहुंची पंचनामा कार्रवाई करते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया रेलवे लाइन के पास में ही उनकी मोटरसाइकिल भी बरामद हुई है वह दसरे स्थान पर दो माउजर और कारतूस भी बरामद कर लिए गए हैं। 

रवि पांडे

पूर्व में दमोह जिले में भी पदस्थ रह चुके बंडा निवासी आरक्षक रवि पांडे के आत्मघाती कदम उठाने से परिजन साफ इंकार कर रहे हैं। तथा षड्यंत्र के तहत उनकी हत्या किए जाने और शव को रेलवे ट्रैक पर फेंक दिए जाने की आशंका जताई जा रही है ऐसे में सागर पुलिस के समक्ष आरक्षक की मौत की गुत्थी सुलझाना चुनौती बन गया है। प्रथम दृष्टया पुलिस भले ही इसे आत्महत्या का मामला बताने की कोशिश कर रही हो लेकिन आरक्षक के आत्मघाती कदम उठाने की भी ठोस वजह सामने आना चाहिए..

From Around the web