पन्ना टाइगर रिजर्व में वनराज की जल क्रीड़ा व धूप स्नान से सैलानी रोमांचित.. इधर शिकारी खुद यहा शिकार हो गया..

जल क्रीड़ा करते वनराज की तस्वीर सामने आई
 
Vanraj
पन्ना/दमोह। बुंदेलखंड के जंगली इलाके से दो तस्वीरें सामने आई है। एक तरफ पन्ना टाइगर रिजर्व में गुनगुनी धूप का आनंद लेने के बाद जल क्रीड़ा करते वनराज की तस्वीरें एवं वीडियो सामने आई है। दूसरी ओर दमोह जिले में मछली मारने पानी में फैलाए करेंट की चपेट में शिकारी के आ जाने के हालात सामने आए हैं।
पन्ना टाइगर रिजर्व में कोरोना काल का प्रतिबंध खत्म होते ही सैलानियों की आवक बढ़ गई है। इधर गुलाबी ठंड की दस्तक के साथ वन्य प्राणियों का खुली धूप में विचरण करने के लिए निकलने का सिलसिला भी शुरू हो गया है। जिससे सैलानियों को अब वन्य प्राणियों के विचरण के नजारों के साथ उनकी एक्टिविटी को अपने कैमरे में कैद करने का अवसर भी प्राप्त हो रहा है। ताजा नजारा सुबह के समय गुनगुनी धूप का आनंद लेने के लिए निकले एक वनराज के जल क्रीड़ा करने के साथ सामने आया है। जिसे अपने मोबाइल कैमरे में कैद कर करके दर्शक देर तक रोमांचित होते रहे। वही उसका वीडियो वायरल होने के बाद पन्ना टाइगर रिजर्व पहुंचने वाले सैलानियों की संख्या में भी वृद्धि होती दिख रही है। पन्ना से सुशील यादव की रिपोर्ट..

 शिकारी खुद यहां शिकार हो गया..

दमोह। बुंदेलखंड में एक कहावत प्रसिद्ध है जो दूसरों के लिए गड्ढा खोदता है कभी-कभी खुद भी उस गड्ढे में गिर जाता है। यह कहावत जिले के मडियादो थाना अंतर्गत कोल डाबर क्षेत्र में चरितार्थ होती नजर आई है। यह नाले में मछलियां पकड़ने के लिए पानी में बिजली तार डालकर करंट लगा कर शिकार करने वाले एक युवक के खुद करंट का शिकार हो जाने का घटनाक्रम सामने आया है।

kreant

 करंट लगने से मौत के आगोश में समा गए युवक का नाम हल्कू पिता दयाराम बताया जा रहा है वही मौके पर पहुंचे मडियादो थाना प्रभारी विक्रम सिंह दांगी ने जांच कार्रवाई करते हुए पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया है वही मौके पर विद्युत तार पानी में बड़े होने तथा करंट लगने की वजह से कुछ मछलियों की भी मौत हो जाने और इसी करंट के शिकार होकर हल्कू की भी मौत हो जाने के नजारे को देखकर लोग शिकारी खुद यहां शिकार हो गया कि बात करते नजर आए..

From Around the web