डंपर कार भिड़ंत में CID इंस्पेक्टर की दर्दनाक मौत.. भोपाल से रीवा जाते समय पवई सलेहा मार्ग पर रफ्तार का कहर..

 
  पवई सलेहा मार्ग पर दर्दनाक हादसे के बाद भीड़- 
पन्ना। पवई से 3 किलोमीटर आगे सलेहा मार्ग पर शनिवार दोपहर हुए दर्दनाक सड़क हादसे में भोपाल में पदस्थ सीआईडी इंस्पेक्टर की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। हादसे के बाद लोगों की भीड़ लग गई और कार में फंसे सीआईडी इंस्पेक्टर के शव को निकालने के लिए कार के अगले हिस्से को काटना पड़ा।
डंपर कार भिड़ंत में CID इंस्पेक्टर की दर्दनाक मौत.. भोपाल से रीवा जाते समय पवई सलेहा मार्ग पर रफ्तार का कहर..
प्राप्त जानकारी के अनुसार जीआरपी में पदस्थ रहे इंस्पेक्टर श्रीपाद दुबे का कुछ समय पूर्व ही सीआईडी ब्रांच में पदस्थापना हुई है। शनिवार को अपनी पत्नी के साथ मारुति स्विफ्ट क्रमांक एमपी 04 सीक्यू 5883 रीवा के लिए रवाना हुए थे। सागर दमोह हटा होते हुए पवई से सलेहा मार्ग पर तेजी से जा रही उनकी कार को टेड़वादी मोड़ पर सामने से आ रहे गिट्टी से भरे तेज रफ्तार डंपर ने टक्कर मार दी।
डंपर कार भिड़ंत में CID इंस्पेक्टर की दर्दनाक मौत.. भोपाल से रीवा जाते समय पवई सलेहा मार्ग पर रफ्तार का कहर..
भिड़ंत इतनी जबरदस्त थी कार के चालक साइड के हिस्से के सामने से परखच्चे उड़ गए तथा डंपर खेत में घुस गया हादसे में स्विफ्ट गाड़ी की स्टेरिंग सीने में घुस जाने के साथ सीआईडी इंस्पेक्टर का शरीर भी गाड़ी की बॉडी में फस गया। वहीं साइड में बैठी उनकी पत्नी के सर में चोट आने के साथ पैर गाड़ी के नीचे फस गए। 
डंपर कार भिड़ंत में CID इंस्पेक्टर की दर्दनाक मौत.. भोपाल से रीवा जाते समय पवई सलेहा मार्ग पर रफ्तार का कहर..
घटना की कुछ देर बाद ही मौके पर पहुंची हंड्रेड डायल और 108 पहुच गई थी। लेकिन श्रीपाद दुबे का शरीर दुर्घटनाग्रस्त कार में बुरी तरह से चिपट चुका था जिससे कार के सामने के हिस्से को कटवाने के बाद ही उसे बाहर निकाला जा सका बाद में पवई अस्पताल पहुंचाने पर उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। उनकी पत्नी को पवई में प्राथमिक उपचार के बाद कटनी जिला चिकित्सालय रेफर कर दिया गया है।  
                                   
बताया जा रहा है कि रीवा के सिरमौर विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत श्री  दुबे की ससुराल है जहां साले की शादी होने की वजह से व पत्नी के साथ शादी का सामान आदि खरीदारी करके कार से भोपाल से रीवा जाने के लिए रवाना हुए थे, लेकिन इस दुखद हादसे की शिकार हो गए।   परम पिता परमेश्वर उनकी आत्मा को अपने चरणों में स्थान दे और दुखी परिजनों को यह गहन दुख सहने की शक्ति प्रदान करें। ओम शांति शांति शांति..

From Around the web