शादी नहीं हो पाने के डिप्रेशन में महिला सब इंस्पेक्टर ने उठाया खतरनाक कदम.. सल्फास की गोलियां खाने के पहले माता पिता को सुसाइड नोट लिखकर दुनिया को अलविदा किया.. रतलाम पुलिस परिवार में छाई शोक की लहर

 

 महिला एसआई ने सल्फास खाकर दे दी जान..

रतलाम। शादी नहीं होने के तनाव में अभी तक उम्र दराज बेरोजगारों के द्वारा खुदकुशी कर ले ने की खबरें आपने सुनी होगी लेकिन रतलाम में एक महिला सब इंस्पेक्टर के द्वारा जहरीले पदार्थ का सेवन करके आत्मघाती कदम उठा लेने का दुखद घटनाक्रम सामने आया है। महिला एसआई द्वारा उठाए गए खतरनाक कदम से परिजनों के अलावा जहां पुलिस परिवार की भी आंखें नम है वही उसके द्वारा छोड़े गए सुसाइड नोट में उसके विवाह नहीं होने के मानसिक तनाव की पीड़ा साफ झलकती नजर आई है। जिसकी पुष्टि रतलाम एसपी गौरव तिवारी ने भी की है।


रतलाम के स्टेशन रोड पुलिस थाने में पदस्थ महिला एसआई कविता सोलंकी 35 ने अस्पताल में उपचार के दौरान दम तोड दिया। कविता ने बुधवार दोपहर रंजीत पुलिस लाइन के अपने सरकारी आवास में सैल्फास की गोली निगल ली थी। हालत बिगडने पर उसने थाने फोन लगाकर एक हेड कान्स्टेबल को तबियत खराब होने की जानकारी दी। तब उसे एक चिकित्सालय में भर्ती कराया गया गुरुवार सुबह उसने दम तोड दिया।

शादी नहीं हो पाने के डिप्रेशन में महिला सब इंस्पेक्टर ने उठाया खतरनाक कदम.. सल्फास की गोलियां खाने के पहले माता पिता को सुसाइड नोट लिखकर दुनिया को अलविदा किया.. रतलाम पुलिस परिवार में छाई शोक की लहर


आत्महत्या के पीछे विवाह ना होने से डिप्रेशन सामने आया है। जिला चिकित्सालय में मीडीयाकर्मियों से चर्चा में एसपी गौरव तिवारी ने बताया कि एसआई के मृत्युपूर्व कथन कराए गए है, जिसमें उसने सैल्फास खाने की बात बताई थी पुलिस को उसके घर से माता पिता को लिखा एक पत्र भी मिला है,जिसमें उसने लिखा है कि इतनी उम्र हो जाने के बावजूद भी उसकी शादी नहीं हो पा रही है और इससे वह जीवन से पूरी तरह निराश हो चुकी है इसी वजह से वह अपने जीवन का अंत कर रही है।

शादी नहीं हो पाने के डिप्रेशन में महिला सब इंस्पेक्टर ने उठाया खतरनाक कदम.. सल्फास की गोलियां खाने के पहले माता पिता को सुसाइड नोट लिखकर दुनिया को अलविदा किया.. रतलाम पुलिस परिवार में छाई शोक की लहर

महिला एसआई के निधन की खबर से पुलिस लाइन में गमगीन माहौल बना रहा। पुलिस परिवार के अलावा उसके परिजनों में भी शोक की लहर देखी गई। तथा अंतिम विदाई के पूर्व पुलिस विभाग के अधिकारियों ने भी पुष्पांजलि अर्पित करके अपनी शोक संवेदना है व्यक्ति की। उल्लेखनीय है कि मन्दसौर जिले के सीतामउ की रहने वाली कविता वर्ष 2017 में पुलिस की सेवा में आई थी वह जिले के विभिन्न थानों पर पदस्थ रह चुकी थी और 16 फरवरी 2021 से स्टेशनरोड थाने पर पदस्थ थी।

From Around the web