ट्रैफिक पुलिस की युवा भाजपा नेता से अभद्रता चालानी कार्यवाही की धमकी के बाद.. भाजपा नेताओं का यातायात थाने के बाहर धरना प्रदर्शन..

एसपी ने ट्रैफिक सूबेदार को लाइन अटैच किया..
 
sp
दमोह नगर की यातायात व्यवस्था को लेकर ट्रैफिक पुलिस का रवैया आए दिन आम नागरिकों के लिए सुविधा के बजाय परेशानी का सबब बनता नजर आता है। घंटाघर का ट्रैफिक कंट्रोल करने के लिए बैरिकेट्स रखकर घंटाघर की एक तरफ की सड़क को पूरा बंद कर दिए जाने का मामला हो या कोतवाली कीर्ति स्तंभ तथा यातायात थाने के समक्ष वक्त बेवक्त की जाने वाली चालानी कार्यवाही का। उपरोक्त दोनों हालात आवश्यक कार्य से जल्दबाजी में निकल रहे नागरिकों के लिए आवागमन में देरी के साथ परेशानी की वजह बनते नजर आते हैं..

 
फिलहाल हम बात कर रहे हैं ट्रैफिक पुलिस की चालानी कार्यवाही की जिसके शिकार भाजपा युवा मोर्चा के नगर अध्यक्ष राजुल चौराहा को होना पड़ा। वहीं इनके द्वारा परिचय दिए जाने पर ट्रैफिक पुलिस द्वारा अभद्रता भी की गई। जिसकी जानकारी लगने पर भाजपा के अन्य नेता यातायात थाने पहुंच गए। उसके बाद भी यातायात सूबेदार के रवैए में नरमी आने के बजाए सख्त लहजा कायम रहा। 

bjp

नतीजन भाजपा के जिला अध्यक्ष प्रीतम सिंह लोधी के नेतृत्व में अन्य पदाधिकारियों कार्यकर्ताओं को यातायात पुलिस के खिलाफ नारेबाजी के साथ विरोध प्रदर्शन करते हुए धरने पर बैठने में देर नहीं लगी देर तक चले इस धरना प्रदर्शन को खत्म कराने के लिए आखिरकार एसपी डीआर तेनिवार को स्वयं यातायात थाना पहुंचना पड़ा।

जहां उनके द्वारा ट्राफिक सूबेदार अभिनव साहू को लाइन अटैच किए जाने तथा चार अन्य ट्रैफिक पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई का भरोसा दिलाया जाने के बाद ही भाजपा का यातायात सूबेदार के खिलाफ ट्रैफिक थाने के बाहर घंटे भर से अधिक तक चला धरना प्रदर्शन खत्म हुआ।

dharna

इस दौरान जानकारी लगने पर भाजपा कार्यकर्ताओं के अलावा मीडिया कर्मियों से लेकर अन्य लोगों की भीड़ लगी रही तथा लोग ट्रैफिक पुलिस की घंटाघर की बैरिकेट्स बदहाल व्यवस्था से लेकर  बाईपास आदि क्षेत्रों में की जाने वाली चालानी कार्यवाही को लेकर भी चर्चा करते सवाल उठाते नजर आए। वहीं पुलिस की तथाकथित दलाली में लगे रहने वाले तत्व भाजपा के धरने प्रदर्शन के दौरान परेशान नजर आए..

From Around the web