जनवरी के 13 वे दिन फिर मिले 41 कोरोना केस.. निस्वार्थ सामाजिक संगठन ने निराश्रित असहाय महिलाओं को कंबल वितरित किए..

जबेरा पुलिस ने गौवंश से क्रूरतापूर्वक भरा कंटेनर पकडा
 
samaj seva
दमोह। जिले में जनवरी के 13 वे दिन फिर से 41 मरीजों की रिपोर्ट कोरोना पाजेटिव आई है। नए मरीजों में शहर के विभिन्न वार्डो से लेकर जिले के विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों के सभी आयु वर्ग के लोग शामिल है। जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है की कोरोना किसी को नहीं छोड़ रहा है। ऐसे में इससे बचने के लिए सावधानी बेहद जरूरी है।
निराश्रित असहाय महिलाओं को कंबल वितरित किए

दमोह। निस्वार्थ सामाजिक संगठन परिवार द्वारा आज तेंदूखेड़ा जनपद क्षेत्र के ग्राम देवरी लीलाधर में कंबल वितरण का कार्यक्रम रखा जिसमें निराश्रित असहाय विकलांग विधवा महिलाओं को कंबल वितरित किए गए संगठन कैसे पहुंचा देवरी लीलाधर निस्वार्थ सामाजिक संगठन द्वारा हमेशा ही निस्वार्थ भावना से हमेशा कार्य करता है फेसबुक के माध्यम से गांव की जागरूक लड़की रूपाली जैन ने संगठन का कार्य देखते हुए मैसेज के माध्यम से 10 जनवरी को संगठन प्रमुख सचिन मोदी से संपर्क किया एवं आग्रह किया कि हमारी ग्राम देवरी लीलाधर में भी बहुत से लोग परेशान हैं आप हमारे ग्राम में कंबल वितरित कीजिए।

संगठन को सिर्फ अवसर का इंतजार रहता है सभी अतिथियों ने रूपाली जैन का सम्मान किया और संगठन आज पहुंचा देवरी गांव और कंबल वितरित किए। जागरूक व्यक्ति अमन सिंह हिनौती 20 कंबल, नरेंद्र सिंह सरपंच कुलुवा 10 कंबल, राहुल जैन बनवार 30 कंबल, विजय जैन पूर्व सरपंच दिनारी 10 कंबल संगठन को देने की घोषणा की। सभी का आभार सचिन मोदी द्वारा किया गया। इस अवसर पर गौरव पटेल पूर्व जिला सहकारी बैंक अध्यक्ष, राघवेंद्र सिंह ऋषि भैया, दगपाल सिंह, संग्राम सिंह, जया ठाकुर, राहुल जैन बनवार, अमन सिंह हिनौती, नरेंद्र सिंह सरपंच कोलुआ, विजय जैन बड़े राय तेजगढ़ अनिल जैन धन कुमार विश्वकर्मा भोजराज जैन पंकज सोनी रवि सिंह की उपस्थिति रही।
गौवंश से क्रूरतापूर्वक भरा कंटेनर पुलिस ने पकडा
दमोह। पुलिस थाना जबेरा अंतर्गत दमोह जबलपुर स्टेट हाईवे पर मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर जबेरा पुलिस ने को पकड़ लिया लेकिन जब तक पुलिस कंटेनर के पास पहुंचते तब तक उसमें सवार लोग वहां से भाग गए थे इस कंटेनर में क्रूरता पूर्वक पशुओं को भरा गया था। पुलिस थाना प्रभारी इंद्रा सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि एक कंटेनर क्रमांक यूपी 21 बीएन 8386 तेज रफ्तार से दमोह से आता हुआ बाईपास से निकल रहा था जिसकी सूचना मिलने पर तत्काल ही अपने स्टॉप एएसआई पीडी दुबे, सुरेंद्र सिंह दीवान, प्रधान आरक्षक संतोष खरे, आरक्षक भगवत पटेल, रूपलाल, दिलीप बघेल के साथ ट्रक का पीछा किया और पूरनयाउ पेट्रोल पंप के सामने ट्रक खडा मिल गया लेकिन उसमें सवार चालक परिचालक वहां से भाग निकल गये थे।

trak

जब ट्रक की जांच की तो उसमें बडी संख्या में गौवंश को क्रूरता के साथ रखा गया था। ट्रक को जब्त कर मुडेरी गौशाला लाया गया जहां इन गौवंश को कंटेनर से बाहर निकाला गया। इस कंटेनर में से 65 नग बैल व नटवा को सकुशल निकाल लिया गया वहीं दो बैल मृत अवस्था में मिले। सुरक्षित निकाले गए गोवंश में से आधा दर्जन गंभीर रूप से घायल हैं। सभी गोवंश को गौशाला द्वारा चारा, पानी की व्यवस्था की गई। पुलिस द्वारा अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ पशु वध अत्याचार अधिनियम के तहत मामला पंजीबद्ध कर जांच में लिया है।

From Around the web