दीपावली पर मप्र के बाजारो में थी लाखो के नकली नोटों को खपाने की तैयारी.. खरगोन पुलिस ने गुजरात पासिंग की कार से गुजरात निवासी दो बदमाशों से बरामद किए 24 लाख के नकली नोट.. दो हजार के नकली नोटों की गड्डियां बाजार में खपने के पहले जब्त..

 

24 लाख के नकली नोट चलन के पहले पकड़े गए

खरगोन/इंदौर। पुलिस मुख्यालय एवं आईजी इंदौर जोन हरिनारायणचारी मिश्र एवं डीआईजी निमाड रेंज खरगोन तिलकसिंह के निर्देशानुसार अवैध आग्नेय शस्त्रों का निर्माण, क्रय-विक्रय, शराब माफिया व गौ तस्कर एवं अवैध गतिविधियों के विरूद्ध खरगोन पुलिस द्वारा लगातार कार्यवाही की जा रही है। इसी तारत्मय में सूचना प्राप्त होने पर एसपी सिद्धार्थ चौधरी के निर्देशन मे एएसपी जितेन्द्रसिंह पंवार व नीरज चौरसिया एवं एसडीओपी ध्रुवराजसिंह चौहान के मार्गदर्शन में फेक करेंसी निर्माण एवं सप्लाई करने वालो के विरूद्ध कार्यवाही करते हुए गुजरात पासिंग की कार से 24 लाख के नकली नोटों के साथ गुजरात निवासी दो बदमाशों को गिरफ्तार करके उनके घर से नकली नोट छापने का सामान बरामद किया है।

दीपावली पर मप्र के बाजारो में थी  लाखो के नकली नोटों को खपाने की तैयारी.. खरगोन पुलिस ने गुजरात पासिंग की कार से गुजरात निवासी दो बदमाशों से बरामद किए 24 लाख के नकली नोट.. दो हजार के नकली नोटों की गड्डियां बाजार में खपने के पहले जब्त..

तदसन्दर्भ में थाना प्रभारी कसरावद निरीक्षक वरुण तिवारी को 31अक्टूबर के दिन मुखबीर द्वारा सूचना मिली कि, दो लोग स्विफ्ट डीजायर कार मे कसरावद तरफ आ रहे है जिनकी गतिविधियां संदिग्ध है। जिस  पर त्वरित कार्यवाही करते हुए हरसिद्ध कालोनी के सामने वाहन चेकिंग के दौरान सफेद रंग की डीजायर कार न. GJ 06 BT 0804 को हमराही फोर्स की मदद से रोक कर कार में बैठे दो व्यक्तियो से उनका नाम पूछने पर वाहन चालक ने अपना नाम अजहर पिता रसुल मिया उम्र 30 वर्ष निवासी इस्मा काम्पलेक्स तादलजा बस स्टेण्ड के सामने तादलजा थाना जे.पी. रोड बडोदरा गुजरात एवं दूसरे व्यक्ति ने अपना नाम मोहम्मद सलीम पिता मोहम्मद उमर पनागर 49 वर्ष निवासी इस्मा काम्पलेक्स तादलजा बस स्टेण्ड के सामने तादलजा थाना जे.पी. रोड बडोदरा गुजरात का होना बताया । 

कसरावद तरफ आने का कारण पुछने पर वाहन चालक द्वारा बताया गया कि मुझे सलीम भाई के द्वारा टेक्सी बुक कर कपडे के व्यापारी से मिलने हेतु लाना बताया था, मोहम्मद सलीम से आने का कारण पूछने पर पुलिस को गुमराह करने की कोशिश कर रहा था, सलीम से कोई संतोषजनक जवाब न मिलने पर गाड़ी की तलाशी ली गई । जिस पर सलीम के हाथ मे एक काले रंग के बैग को खोलकर देखने पर उसमे 2000/- रुपये की नोटों की 12  गड्डीया मिली । जिन्हे सुक्ष्मता से चेक करने पर उच्च गुणवत्ता के नकली नोट होना प्रतीत हुए । भारी मात्रा मे नकली नोट मिलने पर दोनो व्यक्तियो को थाने लाकर पूछताछ करने पर सलीम ने बताया की वो नकली नोट बाजार मे खपाने के लिए गुजरात से कसरावद तरफ आया था और साथ मे लाई हुई कार के संबंध मे पुछते किराये से टेक्सी को कपड़ा व्यापारी से मिलने का बोलकर बुक कर लेकर आना बताया । 

जिस पर उनके विरुद्ध थाना कसरावद पर अपराध क्र 625/21 पर धारा 489 बी, 489 सी भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया। 1 नवंबर को माननीय न्यायालय पेश किया जाकर पुलिस रिमान्ड पर लेकर पूछताछ करने पर सलीम ने नकली नोट छापने के संसाधन अपने घर पर होना बताया। जिस पर तत्काल पुलिस टीम को वडोदरा गुजरात रवाना कर आरोपी निशानदही पर उसके घर से नकली नोट छापने के संसाधन - 01 कलर प्रिंटर, 01 कटर मशीन, नकली नोट बनाने का आधा खुला पेपर पैकेट, नकली नोट बनाने के साचे, 2000/- रुपये के 06 अध छपे नोट आदि को विधिवत जप्त किया गया । 

आरोपियों के गिरफ्तार और पर्दाफाश की सम्पूर्ण कार्यवाही में अनुविभागीय अधिकारी (पुलिस) मण्डलेश्वर ध्रुवराजसिंह चौहान के मार्गदर्शन एवं थाना प्रभारी कसरावद निरीक्षक वरुण तिवारी के नेतृत्व में पुलिस टीम उनि. अजय झा, उनि. भोजराज परमार, उनि. प्रवीण आर्य,  प्रआर. मुकेश पटेल, प्रआर रविन्द्र, प्रआर आशीष, आर. प्रवीण, आर. अनिल, आर.  महेन्द्र, आर. सचिन, आर. विक्कु, आर. जितेंद्र,  सैनिक  ईश्वर, सैनिक नरेन्द्र का सहरानीय योगदान रहा ।


From Around the web