हरियाणा के ATM कार्ड क्लोनिंग गैंग पर खरगोन पुलिस का शिकंजा.. इधर इंदौर में चैन स्नैचिंग लुटेरे बाइकर्स गिरफ्तार..

लूट की 02 सोने की चैन, 52,000 रु नगदी जब्त
 
loot
इंदौर शहर में चैन स्नैचिंग व लूट की वारदातों को अंजाम देने वाले शातिर आरोपियो को गिरफ्तार कर थाना कनाडिया पुलिस ने लूटी गयी 02 सोने की चैन, 52,000 रुपये नगदी जब्त की है। इधर खरगोन पुलिस ने अंतर राज्य एटीएम कार्ड क्लोनिंग गैंग पर शिकंजा कसते हुए बड़ा पर्दाफाश किया है। हरियाणा निवासी आरोपियों के द्वारा लोगों के एटीएम कार्ड बदलकर वारदात को अंजाम दिया जाता था।
 इंदौर। शहर में चोरी/नकबजनी, लूट डकैती जैसे गम्भीर अपराध घटित करने वाले अपराधियों एवं आसमाजिक तत्वों के विरुद्ध प्रभावी कार्यवाही करने डीआईजी सिटी मनीष कपूरिया पर एसपी इंदौर पूर्व आशुतोष बागरी के मार्गदर्शन में एएसपी पूर्व जोन -2 राजेश रघुवंशी एवं सीएसपी जयंत राठौर द्वारा एक विस्तृत कार्य योजना तैयार कर थाना प्रभारियों को उसके अनुसार कार्रवाई हेतु निर्देशित किया गया था।  इसी क्रम में थाना कनाडिया पुलिस ने मुखबिर सूचना पर आदतन लूट के आरोपी को गिरफ्तार करने में सफलता हांसिल की है ।
पुलिस थाना कनाडिया की टीम ने मुखबिर की सूचना पर चैन स्नेचिंग व लूट की घटना को अंजाम देने वाले व्यक्ति से मिलते जुलते हुलिया के दो युवकों को SZR YAMAHA बाइक के साथ पुनः लूट उद्देश्य से वाटर पार्क पुलिया के पकड़ने के बाद जब पूछताछ की तो चौंकाने वाले खुलासे सामने आए। पुलिस द्वारा विस्तृत पूछताछ पर उन्होंने अपना नाम मनोज उर्फ गोलू राठौर उम्र 22 साल नि . टेनिस क्लब के पीछे तुलसी नगर थाना लासूडिया इन्दौर तथा छोटू पिता राधेश्याम पंवार उम्र 20 साल  चौहान नगर इन्दौर बताया। इन्होंने इन्दौर शहर के थाना कनाडिया, थाना लसूडिया क्षेत्र में लूट व चैन स्नेचिंग की वारदात को अंजाम देना स्वीकार किया गया तथा पूर्व में भी इन्दौर शहर लूट के अपराध पंजीबद्ध होना स्वीकार किया गया । आरोपी जुआ खेलने, शराब , गांजा आदि के लिये वारदात करते थे।

इनके पास से जाकर 02 सोने की चैन, 52000 रुपये, एक मोबाईल फोन, एक लेडिस पर्स व 900 रुपये सहित घटना में प्रयुक्त मोटर साईकिल व वक्त घटना पहने हुए जाकेट, कुल कीमती करीब 03 लाख रुपये की बरामदगी मे सफलता अर्जित की है। दोनों आरोपी शातिर बदमाश है जिनके विरूद्ध पूर्व में भी कई लूट आदि के अपराध पंजीबद्ध है।  पुलिस द्वारा दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है जिनसे अन्य वारदातों आदि के संबंध में पूछताछ की जा रही है। उक्त कार्यवाही में वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में थाना कनाडिया के थाना प्रभारी निरीक्षक जगदीश प्रसाद जमरे , उनि माधव सिंह भदौरिया , उनि , प्रेमसिंह टैगौर , सउनि . विष्णु चौहान , आरक्षक नीरज गुर्जर , आरक्षक मनोज पटेल , आरक्षक जंगजीत जाट , आरक्षक अमित सिंह भदौरिया की मुख्य भूमिका रही।

अंतरराज्यीय ATM कार्ड क्लोनिंग गैंग पर पुलिस का शिकंजा

खरगोन। इंदौर आईजी हरिनारायणचारी मिश्र एवं डीआईजी निमाड रेंज खरगोन तिलकसिंह के निर्देशन में खरगोन एसपी सिद्धार्थ चौधरी द्वारा दिए गए दिशा निर्देशन में कार्य करते हुए खरगोन पुलिस ने अंतर राज्य एटीएम कार्ड क्लोनिंग गैंग पर शिकंजा कसते हुए बड़ा पर्दाफाश किया है। हरियाणा निवासी आरोपियों के द्वारा लोगों के एटीएम कार्ड बदलकर वारदात को अंजाम दिया जाता था।
 थाना प्रभारी मैनगाँव परमानंद गोयल ने पुलिस टीम के साथ कार्रवाई करते हुए मुखबिर की सूचना पर निर्माणाधीन एकलव्य स्कूल के बाहर हरियाणा पासिंग की कार क्र. HR 86 7739 मे बैठे चार संदिग्ध युवको से पूछताछ की तो संतोषजनक जवाब नहीं दे सके वही उनके पास एक एटीएम कार्ड स्वाईप मशीन और बहुत सारे एटीएम कार्ड मिलने और इनके द्वारा एटीएम मे जाकर लोगो के एटीएम कार्ड बदलकर रुपए चुराने की जानकारी सामने आने पर पुलिस ने जब तलाशी ली उपरोक्त सामग्री के साथ ड्राइवर के पास से देसी पिस्टल भी बरामद हुई। 
पुलिस पूछताछ में वाहन चालक द्वारा अपना नाम संदीप पिता किताबसिंह घानक उम्र 31 साल निवासी ग्राम पोली जिला जिंद (हरियाणा), चालक के पास बैठे व्यक्ति ने अपना नाम संदीप उर्फ संजीव पिता बलवन्तसिंग साहसी उम्र 24 साल निवासी कलायत जिला केंथल(हरियाणा), पिछली सीट पर बैठे व्यक्तियो ने अपना नाम मुकेश पिता महासिंग जाती साहसी उम्र 40 साल निवासी इन्द्रगढ तह. मेहम जिला रोहतक (हरियाणा) व जयपाल पिता कान्हा जाति साहसी उम्र 30 साल निवासी इन्द्रगढ तह. मेहम जिला रोहतक (हरियाणा) का होना बताया। तलाशी लेने पर इनके पास से 84 हजार रुपये नगद, एक DETSUN ए.टी.एम. कार्ड स्वाइप मशीन अनुमानित कीमत 30 हजार रुपये, एक पिस्टल 02 जिंदा राउंड, 22 विभिन्न बैंको के एटीएम कार्ड 02 एंड्रॉइड मोबाईल एवं एक भारत नक्शा बुक बरामद करके जप्त की गई इसके अलावा इनके द्वारा वारदात में उपयोग की जा रही एक आई -20  कार कीमत अनुमानित 6,00,000/- रुपये को भी जप्त किया गया है।
इनके द्वारा कार्ड बदलकर चोरी छुपे ए.टी.एम. सिरोपें पार करने तथा बात बिगडने पर लोगों को डराने के लिए पिस्टल का उपयोग कर की बात स्वीकार की गई। इनके विरुद्ध अपराध क्रमांक 482/21 धारा 401 भादवि 25, 27 आर्म्स एक्ट का पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया तथा माननीय न्यायालय पेश कर पुलिस रिमान्ड लिया जाकर जिला खरगोन तथा अन्य जिलों की घटनाओ के संबंध मे पूछताछ की जाएगी । 
आरोपीगणो द्वारा बताया गया कि उनके पास एक एटीएम स्वाईप मषीन हें सिसके माध्यम से वे सीधे साधे लोगोे से एटीएम मषीन के केबिन में उनका एटीएम कार्ड लेकर स्वयं के पास रखी मषीन में छुपके से स्वेप कर एटीएम का डाटा सेव कर लेते थे तथा उसके बाद एक अन्य कार्ड में क्लोन बना लिया जाता था एवं अन्य साथी द्वारा व्यक्ति को बातो में उलझाकर पीछे से उसके एटीएम पिन देख लिया जाता था जब व्यक्ति वहां से चला जाता था तो कुछ देर बार गेंग का कोई सदस्य एटीएम क्लोन कार्ड से पेसे निकाल लिये जाते थे। उक्त कार्यवाही मे एसडीओपी  श्री रोहित अलावा के मार्गदर्शन व थाना प्रभारी मेंनगाँव  परमानन्द गोयल के नेतृत्व मे उनि. दीपक तलवारे,  कार्य. सउनि कमल राठौर, आरक्षक लखन,  तंवरसिंह भुरेसिंह एवं साइबर सेल टीम की विशेष भूमिका रही है।

From Around the web