1857 के क्रांति के गवाह शहीद स्थल पर सुरक्षा में चूक.. लोहे की जालियां चोरी.. केंद्रीय मंत्री के निर्देश पर बनाई जा रही थी सुरक्षा दीवार..

नरसिंहगढ़ फसिया नाला शहीद स्थल से चोरी..
 
चोरी
मप्र के दमोह जिले में 1857 की क्रांति के साक्षी रहे फसिया नाला शहीद स्थल पर निर्माणाधीन बाउंड्री वॉल को तोड़कर लोहे की 8 जालिया उड़ा ले ले जाने का घटनाक्रम सामने आया है। केंद्रीय मंत्री पहलाद पटेल के निर्देश पर यहां सुरक्षा दीवार का कराया जा रहा था..

दमोह। नरसिंहगढ़ में स्थित शहीद स्थल जिसमें 18 57 की क्रांति में कई वीरो ने अपने प्राण न्योछावर कर दिए थे.जो कि अमर शहीदों के नाम से नरसिंहगढ़ स्थित फसिया नाला पर बना हुआ है बीते कुछ दिनों पूर्व नरसिंहगढ़ से किशनगंज मार्ग का निर्माण कार्य हुआ था जिसमें सड़क को चौड़ा किया गया था जिस वजह से शहीद स्थल की बाउंड्री वाल को सड़क निर्माण कंपनी के द्वारा तोड़ दिया गया था। वही केंद्रीय मंत्री और दमोह सांसद प्रहलाद पटेल शहीदों को नमन करने शहीद स्थल पहुंचे थे वहा पर उन्होंने बाउंड्री वाल को तुरंत बनाने के निर्देश सड़क निर्माण के ठेकेदार को दिए गए थे।जिसके बाद बीते सप्ताह से सड़क निर्माण के ठेकेदार प्रशांत जैन एके जैन कंस्ट्रक्शन के द्वारा बाउंड्री वाल का निर्माण कार्य कराया जा रहा था.जिसमें लगी लोहे की जालियां नरसिंहगढ़ स्थित माइसेम सीमेंट फैक्ट्री के द्वारा प्रदान कराई गई थी जो बाउंड्री वॉल में निर्माण के दौरान लगाई गई थी। बाउंड्री का निर्माण चल रहा था कि बीती रात नरसिंहगढ़ के अज्ञात चोरों के द्वारा बाउंड्री वॉल को तोड़कर उसमें लगी करीब 8 जालियों को उड़ा ले गए. 

जिसके बाद आज सुबह जब ठेकेदार के द्वारा काम लगाया गया तो वहां बाउंड्री वॉल टूटी मिली इसके बाद नरसिंहगढ़ चौकी में पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने आवेदन तो ले लिया है लेकिन देखना होगा कि आखिर नरसिंहगढ़ के चोरों तक कब तक पुलिस पहुंच पाती है.

नरसिंहगढ़ से शैलेश श्रीवास्तव की रिपोर्ट

From Around the web