आयकर विभाग की कार्रवाई के दौरान पानी टंकी ने उगले करोड़ो के नोटों से भरे बैग.. राय परिवार के ठिकानों पर दूसरे दिन भी कार्रवाई जारी..

भाजपा कांग्रेस दोनो से जुड़े हैं राय परिवार के लोग
 
नोट
मध्यप्रदेश के दमोह में आयकर विभाग की टीम द्वारा कांग्रेस तथा भाजपा नेता शराब कारोबारी राय परिवार के ठिकानों पर छापामार कार्यवाही लगातार दूसरे दिन भी जारी है। वही पहले दिन रात 12:00 बजे तक चली कार्रवाई के दौरान आईटी की टीम करोड़ो की रकम बरामद कर चुकी थी..

दमोह में राय परिवार के ठिकानों पर इनकम टैक्स की कार्रवाई दूसरे दिन भी जारी है। इधर पानी टंकी के अंदर छिपा करके रखे गए नोटों से भरे बैगो को भी आईटी की टीम ने पहले दिन की सर्च करवाई के दौरान खोजने में सफलता हासिल की थी। नोट गिनने की मशीनों तथा लोहे के बक्सों को बुलाया गया था।

देर रात तक बरामद रकम की गिनती पूरी होने के बाद  इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की टीम ने 6 करोड़ से अधिक की नकदी और 3 किलो सोने के जेवरात बरामद करने के बाद 16 पेटियों में सुरक्षित स्थान पर रवाना करा दिया था। आयकर विभाग की टीम द्वारा की गई सर्च कार्रवाई के दौरान पड़ोस के घरों पर भी नोटों से भरे बेगो को फेंक दिया गया था। तेरे को भी बरामद करने के बाद देर रात तक कार्यवाही चलती रही थी।

आयकर विभाग जबलपुर से आई अपर मुनमुन शर्मा जिनके की निर्देशन में आ पूरी कार्यवाही कल से जारी है का कहना है कि पूरी कार्रवाई में अभी एक-दो दिन का समय और लग सकता है उसके बाद यह स्पष्ट हो सकेगा कि कितनी रकम वाहन संपत्तियां बरामद की गई है।फिलहाल राय परिवार के शंकर राय कमला राय राजू राय संजय राय के अलावा उनके निवास से जो अन्य लोगों के नाम पर प्रॉपर्टी संबंधित दस्तावेज मिले हैं आयकर विभाग की टीम उनसे भी पूछताछ करने में जुटी हुई है।

उल्लेखनीय है कि बस ओनर तथा ठेकेदार शंकरलाल राय पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष होने के साथ कांग्रेस नेता है वहीं इनके छोटे भाई शराब और होटल कारोबार से जुड़े कमल राय नगर पालिका के पूर्व उपाध्यक्ष होने के साथ भाजपा के नेता है इधर इनके दो अन्य भाई संजय राय तथा राजू राय का बड़े स्तर पर साहूकारी अर्थात  सूदखोरी का काम चलता है। यही वजह है कि इनके इनके घर से बड़ी मात्रा में अन्य लोगों के जमीन प्रॉपर्टी के कागजात भी बरामद हुए हैं

From Around the web