सड़क की मांग को लेकर महिलाओं का जाम.. SDM के सामने CMO का घेराव.. इधर जबलपुर टोल प्लाजा पर बस यूनियन के धरने को कांग्रेस नेताओं का समर्थन.. बिना टोल चुकाए निकलते रहे वाहन.. मंगलवार को भाजपा नेता भी देंगे धरना..

 
सड़क की मांग को लेकर महिलाओं ने लगाया जाम-
दमोह। नगरपालिका का कार्यकाल समाप्त हो जाने और अभी तक प्रशासक के तौर पर किसी अधिकारी की नियुक्ति नहीं किए जाने जैसे हालात में प्रभारी सीएमओ कपिल खरे "वन मैन शो" की भूमिका में डटे हुए हैं। इधर भाजपा शासित नगर पालिका परिषद द्वारा कराए गए अधिकांश कार्य जहा "आगे पाठ पीछे सपाट" की कहावत को चरितार्थ करते नजर आ रहे हैं वहीं अनेक  वार्डो में  स्वीकृत कार्य ऐसे भी हैं जहां मंजूरी के बाद भी  निर्माण मूर्त रूप नहीं लेने से  आक्रोशित वार्ड वासी अब सड़कों पर उतरने लगे हैं।
 ऐसे ही कुछ हालात रविवार को नगर पालिका में नेता प्रतिपक्ष रहे पूर्व पार्षद रासू चौहान के वार्ड में देखने को मिले। किल्लाई नाका से कॉलोनी मार्ग पर कुछ भाजपा नेताओं द्वारा वार्ड की एक सड़क पर पानी भराव के हालात को लेकर किए गए प्रदर्शन में महिलाएं भी शामिल हो गई तथा उन्होंने मोहल्ले के बाहर मेन रोड पर चका जाम के हालात निर्मित कर दिए जिसकी जानकारी लगते ही कोतवाली पुलिस और एसडीएम रवींद्र चौकसे मौके पर पहुंचे बाद में सीएमओ कपिल खरे भी यहां पहुंच गए।
सड़क की मांग को लेकर महिलाओं का जाम.. SDM के सामने CMO का घेराव.. इधर जबलपुर टोल प्लाजा पर बस यूनियन के धरने को कांग्रेस नेताओं का समर्थन.. बिना टोल चुकाए निकलते रहे वाहन.. मंगलवार को भाजपा नेता भी देंगे धरना..
सड़क की मांग को लेकर महिलाओं का जाम.. SDM के सामने CMO का घेराव.. इधर जबलपुर टोल प्लाजा पर बस यूनियन के धरने को कांग्रेस नेताओं का समर्थन.. बिना टोल चुकाए निकलते रहे वाहन.. मंगलवार को भाजपा नेता भी देंगे धरना..
इस दौरान यहां की सड़क, नाली और पानी समस्या को लेकर महिलाओं की नाराजगी खुलकर सामने आई। महिलाओं ने एसडीएम और टीआई की मौजूदगी में सीएमओ का घेराव करते हुए सड़क निर्माण कार्य नहीं होने, सड़क पर पानी भराव के हालात बने रहने, पाइप लाइन में लीकेज होने जैसे हालातों से अवगत कराते हुए जमकर खरी-खोटी सुनाई। वही सीएमओ कपिल खरे लोगों को समझाएं देते नाली निर्माण कराने के लिए जगह नहीं होने तथा जल्द पाइप लाइन के लीकेज ठीक करा कर सड़क निर्माण कार्य का भरोसा दिलाते नजर आए। 
सड़क की मांग को लेकर महिलाओं का जाम.. SDM के सामने CMO का घेराव.. इधर जबलपुर टोल प्लाजा पर बस यूनियन के धरने को कांग्रेस नेताओं का समर्थन.. बिना टोल चुकाए निकलते रहे वाहन.. मंगलवार को भाजपा नेता भी देंगे धरना..
सीएमओ का कहना था यहां पर ठेकेदार सड़क निर्माण कराने के लिए पहुंचा था लेकिन लोगों ने अपने घरों के सामने सामग्री डालने नहीं दी तथा घरों के बाहर के अतिक्रमण को भी लोग हटाने तैयार नहीं हुए जिस वजह से वह वापस चला गया। जबकि एसडीएम रवींद्र चौकसे का कहना था कि जल्द ही यहां पर लोगों के अतिक्रमण हटाए जाएंगे और नगर पालिका द्वारा सड़क निर्माण कराकर पानी निकासी की व्यवस्था की जाएगी। 
   कांग्रेस नेताओं ने भी किया बस यूनियन का समर्थन..
सड़क की मांग को लेकर महिलाओं का जाम.. SDM के सामने CMO का घेराव.. इधर जबलपुर टोल प्लाजा पर बस यूनियन के धरने को कांग्रेस नेताओं का समर्थन.. बिना टोल चुकाए निकलते रहे वाहन.. मंगलवार को भाजपा नेता भी देंगे धरना..
दमोह। जबलपुर रोड पर जगह-जगह गड्ढे भरे हालात और क्षतिग्रस्त सड़क पर टोल टैक्स की वसूली के खिलाफ बस यूनियन द्वारा शुरू किया गया रोड नहीं तो टोल नहीं धरना आंदोलन दूसरे दिन भी मारुताल टोल प्लाजा के पास जारी रहा।  दूसरे दिन भी छोटे-बड़े वाहन बिना टोल टैक्स चुकाए धड़ल्ले से यहां से निकलते रहे।  रविवार को जिला कांग्रेस अध्यक्ष अजय टंडन के नेतृत्व में कांग्रेसजनों ने धरना प्रदर्शन का समर्थन किया वहीं मंगलवार को भाजपा नेता भी आंदोलन में शामिल होंगे।
सड़क की मांग को लेकर महिलाओं का जाम.. SDM के सामने CMO का घेराव.. इधर जबलपुर टोल प्लाजा पर बस यूनियन के धरने को कांग्रेस नेताओं का समर्थन.. बिना टोल चुकाए निकलते रहे वाहन.. मंगलवार को भाजपा नेता भी देंगे धरना..
  दमोह जबलपुर सड़क का निर्माण कराकर टोल टैक्स वसूलने वाली कंपनी के खिलाफ यूनियन द्वार शुरू की गई रोड नहीं तो टोल नई मुहिम को समाजसेवी संगठनों के बाद अब राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों का भी खुला समर्थन मिलता नजर आ रहा है। शनिवार शाम भाजपा नेता सिद्धार्थ माल्या ने यहां पहुंचकर  मंगलवार को भाजपा द्वारा भी धरना दिए जाने की घोषणा की थी वहीं इस  आंदोलन को युवा जागृति मंच के अध्यक्ष नितिन मिश्रा सहित विभिन्न व्यापारिक संगठनों द्वारा मौके पर पहुंचकर समर्थन दिया गया था।

सड़क की मांग को लेकर महिलाओं का जाम.. SDM के सामने CMO का घेराव.. इधर जबलपुर टोल प्लाजा पर बस यूनियन के धरने को कांग्रेस नेताओं का समर्थन.. बिना टोल चुकाए निकलते रहे वाहन.. मंगलवार को भाजपा नेता भी देंगे धरना..
   जबकि जिला बस एसोसिएशन के आंदोलन के बाद अपर कलेक्टर आनन्द कोपरिया, एसडीएम रविंद्र चोकसे, एडिशनल एसपी विवेक लाल ने 2 दिन में सड़क का कार्य शुरू कराने का आश्वासन देते हुए बस यूनियन से धरना खत्म करने का आग्रह किया था लेकिन आंदोलनकारियों का कहना था कि जब तक सड़क का कार्य थोड़ी नहीं होगा वह अपना धरना आंदोलन जारी रखेंगे। 
सड़क की मांग को लेकर महिलाओं का जाम.. SDM के सामने CMO का घेराव.. इधर जबलपुर टोल प्लाजा पर बस यूनियन के धरने को कांग्रेस नेताओं का समर्थन.. बिना टोल चुकाए निकलते रहे वाहन.. मंगलवार को भाजपा नेता भी देंगे धरना..
जिला बस यूनियन के अध्यक्ष शंकर राय का कहना था कि जब तक सड़क मरम्मत का कार्य ठेकेदार द्वारा शुरू नहीं किया जाएगा तब तक उनका धरना जारी रहेगा। वही आंदोलन के सूत्रधार बस ओनर शमीम कुरेशी का कहना था कि टोल कंपनी को तब तक टोल टैक्स वसूलने नहीं दिया जाएगा जब तक सड़क के हालात पूरी तरह से वाहनों के आवागमन के लायक नहीं हो जाते। रविवार को जिला कांग्रेस अध्यक्ष अजय टंडन के नेतृत्व में अनेक कांग्रेसी नेता धरना प्रदर्शन में शामिल हुए सभी ने रोड नहीं तो टोल नहीं की बात का समर्थन करते हुए प्रशासन से जल्द से जल्द सड़क का मरम्मत पुनर्निर्माण चालू कराए जाने की मांग की।
सड़क की मांग को लेकर महिलाओं का जाम.. SDM के सामने CMO का घेराव.. इधर जबलपुर टोल प्लाजा पर बस यूनियन के धरने को कांग्रेस नेताओं का समर्थन.. बिना टोल चुकाए निकलते रहे वाहन.. मंगलवार को भाजपा नेता भी देंगे धरना..
इधर मंगलवार को भाजपा नेता सिद्वार्थ मलैया के नेतृत्व में पार्टी के युवाओं द्वारा टोल प्लाजा पर धरना दिये जाने की घोषणा कर दी गई है। प्रमुख राजनीति दलों के द्वारा बस यूनियन की मांगों के समर्थन के साथ रोड नहीं तो टोल नहीं आंदोलन जहां मजबूत हुआ है वहीं प्रशासन के सामने जल्द से जल्द सड़क मरम्मत एवं निर्माण कराने के लिए ठेकेदार की तलाश करके काम शुरू कराना चुनौती बन गया है । अटल राजेंद्र जैन 

From Around the web