नवरात्रि के दूसरे दिन भी रिश्वतखोरी का दंश.. सागर लोकायुक्त की टीम ने टीकमगढ़ में बिजली विभाग के अभियंता को एक लाख की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा.. इधर दमोह पुलिस ने लाखों के हिसाब और नगदी के साथ तीन आईपीएल सटोरियों को पकड़ा..

 

सागर लोकायुक्त ने एक लाख की रिश्वत लेते पकड़ा..

टीकमगढ़/सागर। नवरात्र के पावन अवसर पर जहां लोग व्रत उपवास करके अपने पापों का क्षय करते हैं वही रिश्वत लेने वालों को रुपयों में ही माता लक्ष्मी नजर आती हैं। नवरात्र के दूसरे दिन भी सागर संभाग में रिश्वतखोरी का दंश देखने को मिला है। सागर लोकायुक्त की टीम ने टीकमगढ़  बिजली विभाग के एक अधिकारी को एक लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ने के बाद कार्यवाही की है।
टीकमगढ़ जिले के रानीगंज थाना  दिगौड़ा निवासी किशोर सिंह दांगी ने पिछले दिनों सागर लोकायुक्त एसपी रामेश्वर यादव को लिखित शिकायत देते हुए बताया था कि मप्र पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी कार्यपालन अभियंता अखिलेश प्रसाद द्विवेदी द्वारा उनसे विद्युत चोरी प्रकरण के निपटारा करने रिवॉइस की आधी राशि एक लाख रुपए रिश्वत की मांग की जा रही है। 
नवरात्रि के दूसरे दिन भी रिश्वतखोरी का दंश.. सागर लोकायुक्त की टीम ने टीकमगढ़ में बिजली विभाग के अभियंता को एक लाख की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा.. इधर दमोह पुलिस ने लाखों के हिसाब और नगदी के साथ तीन आईपीएल सटोरियों को पकड़ा..

जिसके बाद लोकायुक्त की टीम ने अपना जाल बिछाते हुए निरीक्षक मंजू सिंह के साथ टीकमगढ़ पहुंच कर कार्रवाई को अंजाम दिया। इस दौरान कार्यपालन अभियंता अखिलेश प्रसाद त्रिवेदी को कोतवाली अंतर्गत सुभाष कॉलोनी में उसके किराए के मकान में रिश्वत की रकम ₹50000 नगद, ₹50000 के चेक के साथ रंगे हाथों पकड़े जाने के बाद भ्रष्टाचार अधिनियम की धाराओं के तहत कार्रवाई की गई है।  नवरात्र के दूसरे दिन हुई इस कार्रवाई के पूर्व शाहगढ़ में रिश्वतखोर पटवारी पर कार्यवाही की थी। जिसके बाद लोग यह कहने से नहीं चूक रहे हैं देखें तीसरे दिन अब किसकी बारी है।    
दमोह पुलिस ने लाखों के हिसाब व नकदी के साथ आईपीएल सट्टा खिलाते 3 सटोरियों को पकड़ा..
दमोह। अब जबकि आईपीएल क्रिकेट का उफान चरण पर है ऐसे में हर बॉल हर ओवर के साथ मैच की जीत हार पर दाव लगाए जाने का दौर चरम पर पहुंच चुका है ऐसे में कोतवाली पुलिस की टीम ने प्रभारी सतेंद्र सिंह के निर्देशन में कार्यवाही करते हुए असाटी वार्ड क्षेत्र से आईपीएल का बड़ा सट्टा पकड़ते हुए तीन युवकों को गिरफ्तार करके उनके खिलाफ विभिन्न धाराओं में कार्यवाही की है।
नवरात्रि के दूसरे दिन भी रिश्वतखोरी का दंश.. सागर लोकायुक्त की टीम ने टीकमगढ़ में बिजली विभाग के अभियंता को एक लाख की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा.. इधर दमोह पुलिस ने लाखों के हिसाब और नगदी के साथ तीन आईपीएल सटोरियों को पकड़ा..

कोतवाली पुलिस की टीम ने 7 अक्टूबर की रात असाटी वार्ड नंबर 1 में घर में क्रिकेट आईपीएल का सट्टा खिलाते हुए सपन जैन, दिलीप असाटी व चक्रेश को पकड़ा है इनके पास से ₹30700 नगद, 28 लाख  98 हजार 375 रुपए का हिसाब किताब, 4 मोबाइल फोन कीमत 40000, एक टीवी  कीमत 7000 सेटअप बॉक्स airtel 4000 रुपये कुल कीमती 51000 /आईपीएल मैच का हिसाब किताब के तीन कागज जप्त किए गए। थाना पर अपराध क्रमांक 1024/21 धारा 3/4, 4(a) सट्टा अधिनियम  के अंतर्गत कायमी की गई है
                      

From Around the web