कलेक्ट्रेट के ओएस सुमत दास को रिटायरमेंट पर यादगार विदाई.. सेवानिवृत्ति अवसर पर कलेक्टर कार्यालय द्वारा दी गई विदाई..

ई गवर्नेंस प्रबंधक महेश अग्रवाल पर SCSTएक्ट दर्ज
 
vidai
दमोह।  कलेक्ट्रेट में सबसे महत्वपूर्ण पोस्ट ओएस की होती हैं यह पोस्ट कलेक्ट्रेट के कामों के लिए रीढ़ की हड्डी मानी जाती हैं। पिछले एक साल में श्री दास से उन्हें बात करने की जरूरत नहीं पड़ी काम उतना स्मूथली होता था अपने महत्वपूर्ण कामों में बिना किसी को पता चले काम करना सबसे मुश्किल होता हैं और सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होता हैंए इसके लिए श्री दास को बहुत शुभकामनाए देता हूं..


इस आशय के विचार कलेक्टर एस कृष्ण चैतन्य ने कलेक्टर कार्यालय अधीक्षक सुमत दास की सेवानिवृत्ति अवसर पर बिदाई के दौरान व्यक्त किये। इस मौके पर कलेक्टर श्री चैतन्य ने श्री दास को स्मृति चिन्ह एवं उपहार भेंट कर सम्मानित किया गया। इस दौरान अपर कलेक्टर नाथूराम गौड़ एसडीएम गगन बिसेन सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी.कर्मचारीगण तथा परिवार के सदस्यगण मौजूद थे। कलेक्टर श्री चैतन्य ने कहा श्री दास का कार्यकाल अच्छा रहा किसी भी विभाग के कामों में कभी कोई शिकवा शिकायत नहीं हुई। कलेक्टर श्री चैतन्य ने उनके भविष्य के लिए शुभकामनाए दी।

vidaai

अपर कलेक्टर नाथूराम गौंड ने कहा  जब रिटायरमेंट का समय आता हैं सेवा निवृत्ति बड़े ही गौरव का समय होता हैए जब सरकारी आदमी सेवानिवृत होता हैं। उसको स.सम्मान से विदा किया जाता हैं यह एक शासकीय परम्परा हैं। कलेक्टर सर का बहुत ही स्नेह रहा ओएस पर यह अपने सभी काम समय पर करते थें। सभी को इनसे प्रेरणा लेनी चाहिए और समय पर अपने सारे काम करने चाहिए।

das

 श्री सुमत दास ने कहा उन्हें 35 साल की नौकरी में कोई भी एससीएन नहीं मिला। अलग.अलग व्यवहार के अधिकारियों के साथ उन्होंने काम कियाए उन्हीं के साथ काम सीख कर बहुत अनुभव हुआ सबके साथ प्रेम व्यवहार के साथ काम करने से काम सरल और सफल हो जाते हैं। यही अनुभव आप सबके साथ बांटना चाहूँगा। जो कार्य आपको सौंपा गया हैं उसे समय सीमा में करने से आपकी छवि अधिकारियों के सामने अच्छी बन जाती हैं। इस दौरान श्रीमति अलका दास ने सभी को हृदय से धन्यवाद दिया। कार्यक्रम का संचालन सहायक कोषालय अधिकारी सौरभ सेलट और आभार प्रदीप स्वामी ने व्यक्त किया।

ई गवर्नेंस प्रबंधक महेश अग्रवाल पर SCSTएक्ट दर्ज ..
दमोह। कोतवाली थाना अंतर्गत आधार कार्ड के आई डी के पासवर्ड को अपलोड करने के लिए आवेदक के साथ गाली गलौज करते हुए जान से मारने की धमकी एवं जातिसूचक अभद्र व्यवहार करने के कारण ई गवर्नेंस  प्रबंधक महेश अग्रवाल पर कोतवाली दमोह में अनुसूचित जाति जनजाति अधिनियम सहित अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।  इस संबंध में प्राप्त जानकारी के अनुसार हिंडोरिया निवासी छत्रपाल पुत्र कोदु लाल अहिरवार उम्र 40 वर्ष हिंडोरिया के कंप्यूटर सेंटर में रमीज रजा के यहां काम करता है। इसी बीच उसके द्वारा आधार कार्ड केंद्र खोलने के लिए ऑनलाइन आवेदन किया था जिस पर सभी प्रकार की औपचारिकताएं होने के बाद उसको मैसेज आया कि ई गवर्नेंस कार्यालय जाकर आधार कार्ड की आईडी पासवर्ड प्राप्त कर लें। इसके परिपेक्ष में जब वह अपना लैपटॉप लेकर ई गवर्नेंस कार्यालय गया ,तो प्रबंधक महेश अग्रवाल कार्यालय में नहीं मिले तब वहां पर पदस्थ चपरासी द्वारा मोबाइल पर मेरी प्रबंधक से बात कराने पर उन्होंने कहा कि आप लैपटॉप रख जाओ 2 दिन बाद आकर ले जाना।मैं आईडी पासवर्ड उस पर अपलोड कर दूंगा।
जब छत्रपाल 3 दिन बाद कार्यालय पहुंचा तो उन्होंने कहा कि सर्वर डाउन है अभी नहीं हो पाया इस प्रकार अनेक बार जाने पर भी उनके द्वारा लैपटॉप पर आईडी पासवर्ड लोड नहीं किया गया। इसी बीच जब मैं अपने दुकान के संचालक रमीज रजा के साथ 1 दिन फिर गया कि मेरा लैपटॉप वापस कर दें तो ई गवर्नेंस के प्रबंधक महेश अग्रवाल द्वारा गाली-गलौज करते हुए अभद्र व्यवहार किया एवं जातिसूचक शब्दों का प्रयोग करते हुए जान से मारने की धमकी दी। इस बात का विरोध करने पर उन्होंने कहा कि आपको जहां पर भी मेरी शिकायत करना हो कर देना। इसी बीच छत्रपाल के साथ उसके दुकान के संचालक रमीज राजा ने भी इस प्रकार के अभ्रद व्यवहार करने पर आपत्ति जताई तो उन्हें भी उनके द्वारा भला बुरा कहा गया। तत्पश्चात आवेदक छत्रपाल द्वारा कोतवाली में आवेदन देने के उपरांत पुलिस द्वारा महेश अग्रवाल प्रबंधक ई गवर्नेंस के विरुद्ध धारा 294, 506,3(1)ध,  3(2)वा अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।

From Around the web