मैहर से इंदौर जा रहा ट्रक कुम्हारी पटेरा मार्ग पर.. पलटने से बचने के बाद अगला पहिया निकलने से पटपरा नाले पर धराशाई हुआ.. दमोह कटनी रोड पर टोल बचाने के चक्कर में बड़ा नुकसान कराने से नहीं चूक रहे वाहन चालक...

 

 कुम्हारी पटेरा मार्ग पटपरा नाले पर धराशाई हुआ ट्रक

दमोह। दो तीन सौ रुपए का टोल टैक्स बचाने के चक्कर में वाहन चालक लंबा चक्कर लगाने के साथ खराब सड़क से निकलकर हादसों का शिकार होते वाहनों का भी नुकसान करा रहे हैं। बात कर रहे हैं दमोह कटनी मार्ग पर घाट पिपरिया के समीप बने टोल प्लाजा जहां टैक्स बचाने के चक्कर में अनेक वाहन चालक हिंडोरिया पटेरा कुम्हारी मार्ग से करीब 18 किलोमीटर का चक्कर लगाकर निकलते हैं और इस बीच रास्ते में हादसे का शिकार होकर दुर्घटनाग्रस्त भी हो जाते हैं।

ताजा मामला शनिवार दोपहर टोल सामने आया जब मैहर से इंदौर जा रहा एक ट्रक टोल बचाने के चक्कर मे कुम्हारी से पटेरा रोड पर पड़ने वाले पटपरा नाले पर दुर्घटनाग्रस्त होने के साथ पलटते पलटते बचा। दरअसल यहा इस पुल पर लंबे समय से गड्ढा बना हुआ है जिसकी दो-तीन बार रिपेयरिंग भी हो चुकी है। फिर भी गढ्ढा यथावत बना हुआ दुर्घटनाओ को आमंत्रण दे रहा है। शनिवार दोपहर एक लोड ट्रक जो कि मैहर से इंदौर जा रहा था टोल टेक्स बचाने के चक्कर में कुम्हारी पटपरा नाले पर से निकल रहा था तभी गड्ढे में पहिया आ जाने से कमानी टूट गई और ट्रक पलटते बच गया। ट्रक के अगले पहिये निकल गए और ट्रक बीच पुल पर फस गया। जिससे देर तक जाम के हालात बने रहे व छोटे छोटे वाहनों को भी निकलने में परेशानी का सामना करना पड़ा। 

मैहर से इंदौर जा रहा ट्रक कुम्हारी पटेरा मार्ग पर.. पलटने से बचने के बाद अगला पहिया निकलने से पटपरा नाले पर धराशाई हुआ..  दमोह कटनी रोड पर टोल बचाने के चक्कर में बड़ा नुकसान कराने से नहीं चूक रहे वाहन चालक...
मैहर से इंदौर जा रहा ट्रक कुम्हारी पटेरा मार्ग पर.. पलटने से बचने के बाद अगला पहिया निकलने से पटपरा नाले पर धराशाई हुआ..  दमोह कटनी रोड पर टोल बचाने के चक्कर में बड़ा नुकसान कराने से नहीं चूक रहे वाहन चालक...
उल्लेखनीय है कि फुल के गड्ढे से सावधान करने के लिए  वेरीकेट जमाया गया था ताकि गड्ढा दूर से देखे मगर ट्रक ड्राइवर को गड्ढा नजर नहीं आया। हादसे के बाद ट्रक खत्री नल क्लीनर जहां स्वयं ट्रक पलटने से बचने की बात करता नजर आया। वही गाड़ी का काफी नुकसान हो जाने की जानकारी भी देता दिखा। लेकिन टोल बचाने के चक्कर में लगने वाले लंबे चक्कर के साथ होने वाले इस तरह के नुकसान की बात वाहन चालकों को कब समझ में आएगी यह कह पाना मुश्किल है। पटेरा से संजय शुक्ला की रिपोर्ट

From Around the web