दशहरा की रात पुलिस की व्यस्तता के चलते चोरों ने सक्रियता दर्ज कराई.. डॉक्टर के सूने आवास का ताला तोड़कर लाखों के माल पर हाथ साफ किया.. इधर बस स्टेंड क्षेत्र में स्टूडियो एवं एमपी ऑनलाइन संचालक को भी नहीं बख्शा..

 

 डॉ. के सूने आवास का ताला तोड़ लाखों की चोरी

दमोह। शहर तथा तहसील मुख्यालय पर नवरात्र समारोह एवं देवी प्रतिमा विसर्जन दशहरा में पुलिस की व्यस्तता का फायदा उठाकर चोरों द्वारा एक के बाद एक कई स्थानों पर धावा बोलते हुए वारदात को अंजाम दिए जाने की मामले जबेरा थाना क्षेत्र में सामने आए हैं।

दशहरा की रात पुलिस की व्यस्तता के चलते  चोरों ने सक्रियता दर्ज कराई.. डॉक्टर के सूने आवास का ताला तोड़कर लाखों के माल पर हाथ साफ किया.. इधर बस स्टेंड क्षेत्र में स्टूडियो एवं एमपी ऑनलाइन संचालक को भी नहीं बख्शा..

 इस दौरान डॉक्टर के सूने आवास से लेकर बस स्टेंड क्षेत्र में स्टूडियो संचालक की दुकान को निशाना बनाने से चोर नहीं चूके। वही शिकायत मिलने पर पुलिस ने मामला दर्ज करके चोरों की तलाश शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि जबेरा सामुदायिक केंद्र में पदस्थ डॉ पीके कोष्ठा दशहरा पर ड्यूटी करने तेंदूखेड़ा स्वास्थ्य केंद्र गए हुए थे इस दौरान उनका परिवार भी साथ गया हुआ था। जिसका फायदा उठाते हुए चोरों ने बीती रात जबेरा स्थित उनके सूने आवास पर धावा बोलकर सोने चांदी के कीमती जेवरात के साथ नगदी पर हाथ साफ कर दिया।
दशहरा की रात पुलिस की व्यस्तता के चलते  चोरों ने सक्रियता दर्ज कराई.. डॉक्टर के सूने आवास का ताला तोड़कर लाखों के माल पर हाथ साफ किया.. इधर बस स्टेंड क्षेत्र में स्टूडियो एवं एमपी ऑनलाइन संचालक को भी नहीं बख्शा..

 रविवार को जब डॉ प्रोमी कोष्ठा जबेरा वापस लौटे जॉन को सरकारी आवास के दरवाजे का ताला टूटा मिला अलमारी में रखे लाखों के जेवरात और नकदी गायब मिली। जिसकी शिकायत जबेरा थाने में यह जाने के बाद पुलिस ने अज्ञात आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।
दशहरा की रात पुलिस की व्यस्तता के चलते  चोरों ने सक्रियता दर्ज कराई.. डॉक्टर के सूने आवास का ताला तोड़कर लाखों के माल पर हाथ साफ किया.. इधर बस स्टेंड क्षेत्र में स्टूडियो एवं एमपी ऑनलाइन संचालक को भी नहीं बख्शा..

इसी तरह जबेरा बस स्टैंड पर स्थित प्रशांत स्टूडियो एव ऑनलाइन सेंटर संचालक की दुकान का ताला तोड़कर बीती रात चोरों ने दुकान में रखी करीब इक्कीस हजार रुपये की नगद राशि पार कर दी। इस की शिकायत भी जबेरा थाने में दर्ज कराई है। लगातार चोरी के मामले सामने आने के बाद अब जवेरा वासियों ने स्थानीय थाना पुलिस से चोरों का पता लगाकर कार्रवाई करने और रात्रिकालीन गश्त बढ़ाए जाने की मांग की है। जबेरा से मयंक जैन की रिपोर्ट

From Around the web