सीबीआई ने एम्स भोपाल के डिप्टी डायरेक्टर को एक लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा.. फार्मासिस्ट के 40 लाख के बिल भुगतान कराने के एवज में मांगा था 5 परसेंट कमीशन.. CBI टीम अब दफ्रतर तथा घर मे उनकी संपत्तियों के दस्तावेज भी खंगालने में जुटी..

 

एम्स के डिप्टी डायरेक्टर एक लाख रुपए की रिश्वत लेते पकड़े गए..

भोपाल। सीबीआई की टीम ने एम्स भोपाल के डिप्टी डायरेक्टर धीरेंद्र प्रताप सिंह को एक लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए पकड़ने के बाद अब उनके ऑफिस के दस्तावेज खंगालने के बाद उनकी संपत्तियों की जांच करने के लिए उनके निवास पर भी दबिश दी है। जांच के प्रारंभिक चरण में ही भारी मात्रा में आय से अधिक संपत्ति उजागर होने की संभावना जताई जा रही है।
सीबीआई ने एम्स भोपाल के डिप्टी डायरेक्टर को एक लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा.. फार्मासिस्ट के 40 लाख के बिल भुगतान कराने के एवज में मांगा था 5 परसेंट कमीशन.. CBI टीम अब दफ्रतर तथा घर मे उनकी संपत्तियों के दस्तावेज भी खंगालने में जुटी..

मप्र की राजधानी भोपाल के शाहपुरा क्षेत्र में संचालित विष्णु रेस्टोरेंट के पास आज सीबीआई की टीम ने एसपी पीके पांडे के निर्देशन में कार्रवाई करते हुए एम्स के डायरेक्टर धीरेंद्र प्रताप सिंह को ₹100000 की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ने में देर नही की। बताया जा रहा है कि एक फार्मासिस्ट के 40 लाख के बिल भुगतान के बदले में 5 परसेंट रिश्वत की मांग की गई थी जिसकी शिकायत सीबीआई को किए जाने के बाद सीबीआई टीम ने पहले पुष्टि की और उसके बाद आज कार्रवाई करते हुए रिश्वतखोर डिप्टी डायरेक्टर को पकड़ने में देर नहीं की।
 डिप्टी डायरेक्टर के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत कार्रवाई किए जाने के साथ सीबीआई टीम ने उनके दफ्तर में पहुंचकर दस्तावेजों की भी जांच की है वही एक टीम उनकी संपत्तियों की जांच करने के लिए टीम उनके शाहपुरा के स्टार एवेन्यू स्थित निवास पर पहुंचकर प्रॉपर्टी की जांच में जुट गई है। सीबीआई की जांच कार्रवाई से स्वास्थ्य विभाग के महकने के बड़े अधिकारियों में हड़कंप मचा हुआ है। वही विस्तृत जांच कारवाही की जानकारी की प्रतीक्षा की जा रही है।

From Around the web